Belantar | Belantar In Kundali | Belantar Sarani | Belantar Jyotish | बेलांतर | बेलांतर सारणी | बेलांतर कुंडली | बेलांतर ज्योतिष |

Belantar, Belantar In Kundali. Belantar Sarini. Belantar Jyotish, बेलांतर, बेलांतर सारणी, बेलांतर कुंडली. बेलांतर ज्योतिष |




बेलांतर 

सूर्य गृह की गति हमेशा एक जैसी नहीं रहती, अर्थात हमेश बढ़ते-घटते रहती हैं यानि कभी कम तो कभीं ज्यादा | इस गति परिवर्तन के कारण, किस महीने में सूर्य गृह की गति कितनी घटती-बढ़ती है यह पता कर, मध्यम समय से उस समय पर घटने बढ़ने का विचार कर, घटने-बढ़ने वाले समयों को अंकित कर लिया गया है जिसे हम बेलांतर कहते हैं |

''इष्टकाल''अपनी कुंडली कैसे बनाये ? How Made Horoscope

बेलांतर सारणी

सूर्य ग्रह के गति परिवर्तन के समयों को अर्थात किस महीने में सूर्य की गति कितनी बढ़ी व कितनी कम हुई इसे सुव्यवस्थित रूप से लिख कर रख लिया गया है जिसे हम बेलांतर सारणी कहतें हैं |
Belantar, Belantar In Kundali. Belantar Sarini. Belantar Jyotish


बेलांतर सारणी निचे दी हुई है जिसे देखकर आप यह जान सकेंगे कि किस महीनें में सूर्य की गति कितनी कम हुई है व किस महीने में गति कितनी तीव्र हुई हैं |


ता.
जन.
फर.
मार्च
अ.
.
A
जू.
जु.
अ.
सि.
अक्.
न.
दि.
1
-4
-14
-12
-4
+3
S
+2
-4
-6
+0
+10
+16
+11
2
-4
-14
-12
-4
+3
T
+2
-4
-6
+0
+11
+16
+10
3
-5
-14
-12
-3
+3
R
+2
-4
-6
+1
+11
+16
+10
4
-5
-14
-12
-3
+3
O
+2
-4
-6
+1
+11
+16
+10
5
-6
-14
-12
-3
+4
R
+2
-4
-6
+1
+12
+16
+9
6
-6
-14
-11
-2
+4
I
+2
-4
-6
+2
+12
+16
+9
7
-7
-14
-11
-2
+4
P
+1
-5
-6
+2
+12
+16
+8
8
-7
-14
-11
-2
+4
E
+1
-5
-5
+2
+12
+16
+8
9
-7
-14
-11
-2
+4
.
+1
-5
-5
+3
+13
+16
+7
10
-8
-14
-10
-1
+4
c
+1
-5
-5
+3
+13
+16
+7
11
-8
-14
-10
-1
+4
o
+1
-5
-5
+3
+13
+16
+6
12
-9
-14
-10
-1
+4
m
+0
-5
-5
+4
+14
+16
+6
13
-9
-14
-10
-0
+4

+0
-5
-5
+4
+14
+16
+6
14
-9
-14
-9
-0
+4
A
-0
-6
-5
+5
+14
+15
+5
15
-10
-14
-9
+0
+4
S
-0
-6
-4
+5
+14
+15
+5
16
-10
-14
-9
+0
+4
T
-0
-6
-4
+5
+14
+15
+4
17
-10
-14
-8
+1
+4
R
-1
-6
-4
+6
+15
+15
+4
18
-11
-14
-8
+1
+4
O
-1
-6
-4
+6
+15
+15
+3
19
-11
-14
-8
+1
+4
R
-1
-6
-3
+6
+15
+14
+3
20
-11
-14
-8
+1
+4
I
-1
-6
-3
+7
+15
+14
+2
21
-12
-14
-7
+1
+4
P
-2
-6
-3
+7
+15
+14
+2
22
-12
-14
-7
+2
+4
E
-2
-6
-3
+7
+15
+14
+1
23
-12
-14
-7
+2
+3
A
-2
-6
-2
+8
+16
+13
+1
24
-12
-13
-6
+2
+3
S
-2
-6
-2
+8
+16
+13
+0
25
-13
-13
-6
+2
+3
T
-2
-6
-2
+8
+16
+13
+0
26
-13
-13
-6
+2
+3
R
-3
-6
-2
+9
+16
+12
-1
27
-13
-13
-5
+2
+3
O
-3
-6
-1
+9
+16
+12
-1
28
-13
-13
-5
+3
+3
R
-3
-6
-1
+9
+16
+12
-2
29
-13
-12
-5
+3
+3
I
-3
-6
-1
+10
+16
+11
-2
30
-14
*
-4
+3
+3
P
-3
-6
-0
+10
+16
+11
-3
31
-14
*
-4
*
+3
E
*
-6
-0
*
+16
*
-3

बेलांतर सारणी देखने की विधि

बेलांतर सारणी में ऊपर बायीं से दाई ओर सभी महीनों के नाम लिखें हुए हैं व बायीं ओर उपर से नीचे की ओर  तारीखें लिखी हुई हैं | मान लीजिये की आपको आठ मार्च का बेलांतर देखना है तो आप सबसे पहले तारीख से निचे की और जाते हुए आठ तारीख पर रुकेंगे और ऊपर में बाये से दाए जाते हुए मार्च पर रुकेंगे व मार्च से निचे की ओर तब तक आयेंगे जब तक की आप  आठ तारीख के सीध में न आ जाये | जब आप आठ तारीख के सिध में होंगे तब जिस अंक पर आपकी उंगली होगी वाही आठ मार्च का बेलांतर होगा यानि इसतरह आपको -11 आठ मार्च का बेलांतर प्राप्त हो जायेगा |

विडियो में देखने के लिए यहाँ क्लिक करें | Click here to watch the video. %CLICK%
यदि आप इस विषय में और कुछ पूछना चाहते हो तो कमेंट कर के हमसे पूछ सकते है |
Belantar, Belantar In Kundali. Belantar Sarani. Belantar Jyotish
 Belantar, Belantar In Kundali, Belantar Sarani, belantar saridi, Belantar Jyotish, belantar astrology, belantara,belantara list, बेलांतर, बेलांतर सारिणी, बेलांतर कुंडली, बेलांतर ज्योतिष,  

No comments:

Post a Comment