NAMAKARANA ''नामकरण'' अपनी कुंडली कैसे बनाये ? How Made Horoscope (Kundali) ?


 //  नामकरण // 


               भभोग में 4 का भाग देने पर जो शेष आए उसमे 60 का गुडा करके भभोग के पल को जोड़कर , योगफल में फिर 4 का भाग देने पर जो शेष आए उसमें 60 का गुणा कर 4 से भाग दे कर , तीनो भागो में जो भागफल आया उसे एक जगह लिखकर ( नीचे उदहारण में जिसतरह लिखा है उस तरह ) मिलाते है कि किस चरण में भयात आता है | जिस चरण में भयात मिल जायेगा उसी चरण में जन्म माना जायेगा |


namakarana नामकरण



नक्षत्र=>मृगशीर्ष=वे,वो,का,की

भयात -> 25:20

4 ) 60:10 ( 15
      4  
     20
     20  
     00 x 60 = 00+10=10

4 ) 10 ( 2
      8  
      2 x 60 = 120
4 ) 120 ( 30
      12  
      xx0

15:02:30      15:02:30
15:02:30      30:05:00
15:02:30      45:07:30
15:02:30      60:10:00
60:10:00

भयात 15 अंश से ज्यादा व 30 से कम है अतः जन्म द्वितीय चरण में हुआ है |      
यानि जन्म मृगशीर्ष द्वितीय चरण में हुआ है अतः जन्म नाम ’’ वो ‘’ से होगा |

जन्म नाम => वोमेश |


यदि आप इस विषय में और कुछ पूछना चाहते हो तो कमेंट कर के हमसे पूछ सकते है |
विडियो में देखने के लिए यहाँ क्लिक करें | Click here to watch the video. %CLICK%
namakarana नामकरण




You can visit here-

No comments:

Post a Comment